विज्ञापन के लिए संपर्क करें :- +918630520090

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

एयर इंडिया ने अल्कोहल सेवा पॉलिसी में बदलाव किया

नई दिल्ली। एयर लाइन्स में रोज हो रहे बवाल के बीच यात्रियों की अभद्रता की घटनाओं को देखते हुए फ्लाइट में शराब परोसने की पॉलिसी में बदलाव किया है। पॉलिसी बदलने के बाद पैसेंजर्स को फ्लाइट में तब तक शराब पीने की अनुमति नहीं होगी जब तक क्रू मेंबर्स उन्हें शराब न परोसें। वहीं केबिन क्रू को उन पैसेंजर्स की पहचान करने के लिए अलर्ट रहने को कहा गया है। नई पॉलिसी में केबिन क्रू को समझदारी से शराब परोसने और पैसेंजर के ज्यादा शराब मांगने पर मना करने को कहा गया है। तो वहीं दूसरी तरफ DGCA ने शराब कांड के लिए एअर इंडिया पर 10 लाख का जुर्माना लगाया है क्योंकि एयरलाइन ने मामले की जानकारी DGCA को नहीं दी थी।

एअर इंडिया के कहा कि एयरलाइन ने अपनी इन-फ्लाइट अल्कोहल सेवा पॉलिसी में अन्य एयरलाइंस की प्रैक्टिस और US नेशनल रेस्तरां एसोसिएशन (NRA) की गाइडलाइन का भी इनपुट लिया है। ये काफी हद तक एअर इंडिया की मौजूदा प्रैक्टिस के अनुरूप हैं। हालांकि, बेहतर स्पष्टता के लिए कुछ बदलाव किए गए हैं। NRA के ट्रैफिक लाइट सिस्टम की मदद से क्रू को नशे के संभावित मामलों को पहचानने और बैन करने में मदद मिलेगी।

तीन रंगों से क्रू मेंबर अलर्ट होंगे। हरा रंग का मतलब फ्लाइट में सवार पैसेंजर एकदम सामान्य है। फ्लाइट के क्रू मेंबर्स से सही तरीके से पेश आ रहा है। शराब पेश की जा सकती है। पीले रंग का मतलब यात्री थोड़ा नशे में है। एअर इंडिया के क्रू किसी भी यात्री को ड्रंक नहीं बोलेंगे। क्रू मेंबर यात्री से ऊंची आवाज में बात नहीं करेंगे। यदि यात्री ऐसा करेगा, तो क्रू मेंबर अपनी आवाज धीमी रखेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें