विज्ञापन के लिए संपर्क करें :- +918630520090

Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

पीएम मोदी बोले, “अब विवादों का बॉर्डर नहीं, विकास का कॉरिडोर है”..!

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार सुबह मेघालय की राजधानी शिलांग पहुंचे और यहां उत्तर-पूर्व परिषद की 50वीं वर्षगांठ पर स्वर्ण जयंती समारोह में शामिल हुए। पीएम मोदी यहां पारंपरिक वेशभूषा में दिखे। प्रधानमंत्री मोदी ने इस अवसर पर विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया। इसके बाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि खेलों को लेकर केंद्र सरकार आज नई सोच के साथ आगे बढ़ रही है। इसका लाभ पूर्वोत्तर के युवाओं को मिला है। देश की पहली स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी पूर्वोत्तर में है।

प्रधानमंत्री ने कहा, फुटबॉल में अगर कोई खिलाड़ी खेल भावना से नहीं खेलता तो उसे रेड कार्ड दिखाकर बाहर कर दिया जाता है। ऐसे ही पिछले 8 वर्षों में हमने पूर्वोत्तर के विकास के रास्ते में अनेक रुकावटों को रेड कार्ड दिखा दिया। उन्होंने कहा कि डिजिटल कनेक्टिविटी से सिर्फ बातचीत, संवाद ही बेहतर नहीं होता। बल्कि इससे टूरिज्म से लेकर टेक्नॉलॉजी तक, शिक्षा से लेकर स्वास्थ्य तक, हर क्षेत्र में सुविधाएं बढ़ती हैं, अवसर बढ़ते हैं।

एएनआई पीएम मोदी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि 2014 से पहले यहां योजनाओं के लिए सिर्फ फीते काटे जाते रहे। पूर्वोत्तर के विकास पर सात लाख करोड़ खर्च हुए। पिछली सरकार की सोच विभाजन की थी। लेकिन अब विवादों का बॉर्डर नहीं, विकास का कॉरिडोर है। उन्होंने कहा कि बॉर्डर का विकास डंके की चोट पर हो रहा है। हम वाइब्रेंट बॉर्डर विलेज बनाएंगे। पीएम मोदी ने कहा कि हम पूर्वोत्तर का पूरी ईमानदारी से विकास कर रहे हैं। हम विकास मॉडल बना रहे हैं। हमने पूर्वोत्तर में वोट बैंक की राजनीति खत्म की है। आज पूर्वोत्तर को सस्ती हवाई सेवा का मौका मिल रहा है।

वहीं, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी उत्तर-पूर्व परिषद के स्वर्ण जयंती समारोह को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि अब हर 15 दिन में एक मंत्री नॉर्थ ईस्ट का दौरा करते हैं और नरेंद्र मोदी ने पीएम बनने के बाद 50 से ज्यादा बार इस क्षेत्र का दौरा किया है। DONER (पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास) का गठन पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने किया था और अब पीएम मोदी ने सुनिश्चित किया कि सभी बड़ी परियोजनाएं समय पर पूरी हों।

पीएम मोदी अपनी मेघालय-त्रिपुरा की यात्रा के दौरान 6,800 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे और उनका शिलान्यास करेंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक बयान में कहा कि इन परियोजनाओं में आवास, सड़क, कृषि, दूरसंचार, सूचना प्रौद्योगिकी, पर्यटन और आतिथ्य सहित विभिन्न क्षेत्रों की परियोजनाएं शामिल हैं। इसके अलावा अगरतला में मोदी ‘प्रधानमंत्री आवास योजना-शहरी और ग्रामीण’ के तहत दो लाख से अधिक लाभार्थियों के लिए ‘गृह प्रवेश’ कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें